Sunday, January 22

अगर तीसरा विश्वयुद्ध होता है तो ये पांच देश पृथ्वी को तबाह कर देंगे!

वैसे तो प्रथम विश्वयुद्ध को हुए 100 साल से भी ज्यादा का वक़्त बीत चूका है. लेकिन अब तक या साफ़ नहीं हो पाया है कि प्रथम विश्वयुद्ध आखिरकार शुरू किस देश के कारण शुरू हुआ था. युद्ध खत्म होने के बाद 1919 में वरसाई की संधि में जर्मनी को युद्ध का जिम्मेदार बताया गया और इसके लिए बर्लिन पर बंदिशें लगाई गईं. लेकिन 1920 से ही माना जाने लगा कि इस युद्ध के लिए “सभी जिम्मेदार थे, या कोई नहीं”.

Source

तृतीय विश्वयुद्ध को लेकर भी कुछ ऐसा ही अनुमान लगाया जा रहा है कि अगर तीसरा विश्वयुद्ध होता है तो यह कहना गलत होगा कि इसका जिम्मेदार कोई एक देश है. क्यों कि अगर दुनिया की मौजूदा हालत को देखा जाये तो ऐसी स्थिति है कि कभी भी विश्वयुद्ध छिड़ सकता है. क्योंकि एक ओर जहाँ चीन अपने सीमा से लगे कई देशों के सीमा पर कब्ज़ा कर रहा है. वही कुछ देश अब चीन के इस हरकत का विरोध करते नज़र आ रहे हैं. अमेरिका समेत वियतनाम भी चीन के इस हरकत को नजरअंदाज करने के मूड में नहीं है. लेकिन सोचने वाली बात यह है कि अगर विश्वयुद्ध छिड़ता है तो वो कौन से देश होंगे, जो बाकी के देशों को टक्कर दे पाएंगे और यह तय करेंगे कि दुनिया का अंत होगा या पुनः शांति लौटेगी.

उत्तरी कोरिया एक ऐसा देश है तो बहूत छोटा है. लेकिन ये उन देशों की श्रेणी में सबसे ऊपर है जो तृतीय विश्वयुद्ध को न्योता दे सकते हैं. क्योंकि इस देश ने पाकिस्तानी वैज्ञानिक अब्दुल कादिर खान की मदद से परमाणु तकनीक हासिल कर अब तक 6 परमाणु हथियार कर लिया है.

Source

उत्तरी कोरिया 2006 से लेकर अब तक लगातार अपने परमाणु हथियारों के परिक्षण भी कर रहा है. वैसे तो उत्तरी कोरिया का सबसे बड़ा दुश्मन उसका अपना पड़ोसी दक्षिणी कोरिया है. लेकिन ऐसा मान जाता है कि यह देश अमेरिका और रूस जैसे बड़े देशों से भी नहीं डरता है जो अपना हश्र सोचे बगैर कभी भी किसी देश पर हमाल कर सकता है.

 

परमाणुसम्पन्नता की सूचि में सबसे ऊपर जो देश आता है वो है रूस. रूस के पास नुक्लियर भण्डार ऐसा है कि वो पांच मिनट से भी कम समय में देश और दुनिया का नामोनिशान मिटा सकता है. ख़बरों के मुताबिक रूस से इस बार अमेरिका भी डर रहा है.

Source

इसके पीछे कारण यह है कि रूस ने अपनी सीमाओं पर न्यूक्लियर हथियार लगा रखें हैं और इसको देखकर दुनिया के कई देशों की हालत ख़राब है. कहा यह भी जा रहा है कि रूस ने अपनी कुछ 1600 न्यूक्लियर मिसाइल दुनिया पर दागने के लिए तैयार कर रखी हैं. रूस की शक्ति को देख कर यह कहा जा सकता है कि रूस अगर चाहे तो विश्वयुद्ध को रोक भी सकता है और अगर चाहे तो एक ही झटके में दुनिया को मिटा भी सकता है. रूस के पास कुल 8000 से भी ज्यादा परमाणु हथियार हैं जो कि दुनिया भर में सबसे बड़ा आंकड़ा है

 

चीन की मौजूदा हालात को देखकर यह साफ लगता है कि यह देश अपने आदतों से बाज नहीं आने वाला. चीन आये दिन अपने सीमा से लगे देशों के सीमा छेत्रों में कब्ज़ा करता रहता है. इन दिनों चीन की अमेरिका के साथ-साथ कई और देशों के साथ तजा विवाद में मामले सामने आये हैं.

Source

चीन ने वियतनाम के हिस्से में पड़ने वाले समुद्री इलाके पर भी कब्ज़ा कर रखा है. जिसे लेकर वियतनाम आये दिन आवाज़ उठता रहा है. हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चीन का विरोध करने के संकेत दिए हैं. जिसके बाद से चीन ने भी अमेरिका को परमाणु हाथियार की धमकी देकर धमकाना शुरू कर दिया है. मालूम हो कि इन दिनों चीन भी अपने परमाणु हथियारों की संख्या बढ़ाने में लगा हुआ है.

 

 

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *