Sunday, January 22

Month: December 2016

जो काम पाकिस्तान 21 साल तक नहीं कर सका उसे भारत ने चुटकी में कर दिखाया…

जो काम पाकिस्तान 21 साल तक नहीं कर सका उसे भारत ने चुटकी में कर दिखाया…

इतिहास
1971 में हुए भारत-पाक युद्ध के में भारत की जीत के बाद भारत ने पाकिस्तान के कुछ इलाके में औपचारिक रूप से कब्ज़ा कर लिया था. ये युद्ध  3 दिसंबर से 16 दिसंबर तक चली थी.आपको बता दें कि भारत-पाक युद्ध में हमारी जीत का औपचारिक ऐलान आज के ही दिन हुआ था. Source इस युद्ध के आखिरी रात पाकिस्तान के 2 गांवों के लोगों की कहानी किसी सपने से कम नहीं है. जरा सोचिये कैसा लगा होगा जब युद्ध के दौरान लोग सोए तो पाकिस्तान में थे लेकिन अगली सुबह चारपाई से उठे तो भारत में थें. ये कहानी  28 हजार फीट ऊंचाई पर दुनिया के दूसरे सबसे ऊंचे पहाड़ कराकोरम के करीब बसे एक दो गाँव की हैं. 1971 युद्ध में इंडियन आर्मी ने रातों-रात पाकिस्तान के इन गांवों पर कब्जा कर लिया था. दैनिक भारत के खबर के अनुसार  जब  सुबह-सुबह भारतीय सेना के जवान लोगों को चाय देने आए तब उन्हें  पता चला कि वो पाकिस्तान से भारत में आ गए हैं. &

नए सेना प्रमुख के कारनामों को जानने के बाद नियुक्ति पर सवाल उठाने वालों का मुंह बंद हो जाएगा…

ट्रेडिंग
लेफ्टिनेंट जनरल बिपिन रावत को थल सेना का प्रमुख नियुक्त किया गया है. मालुम हो कि ले. जनरल विपिन रावत जल्द ही जनरल दलबीर सिंह सुहाग का जगह लेते हुए भारतीय थल सेना की कमान संभालेंगे. ख़बरों के मुताबिक उन्हें सीनियर आर्मी कमांडर ले. जनरल प्रवीण बख्शी को नजर अंदाज करते हुए यह अहम जिम्मेदारी दी गई है. Sourceकैसे होता है सेना प्रमुख के चयन? नियम के मुताबिक लेफ्टिनेंट जनरल को (कमीशंड सेवा में 36 साल तक रहने के बाद) चुना जाता है आगे चल कर वह वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ या आर्मी कमांडर्स का पद भी संभाल सकते है. इसके बाद लेफ्टिनेंट जनरल प्रमोट हो कर जनरल बनते हैं और उन्हें ही सेना प्रमुख चुना जाता है. आमतौर पर सेना प्रमुख का चयन सीनियरिटी के आधार पर किया जाता है. लेकिन भारत के इतिहास में ऐसा कई बार हो चूका है जब सीनियर को दरकिनार कर क़ाबलियत के आधार पर जूनियर्स को ये कमान संभालने का मौका दिया गय

अगर तीसरा विश्वयुद्ध होता है तो ये पांच देश पृथ्वी को तबाह कर देंगे!

अन्य
वैसे तो प्रथम विश्वयुद्ध को हुए 100 साल से भी ज्यादा का वक़्त बीत चूका है. लेकिन अब तक या साफ़ नहीं हो पाया है कि प्रथम विश्वयुद्ध आखिरकार शुरू किस देश के कारण शुरू हुआ था. युद्ध खत्म होने के बाद 1919 में वरसाई की संधि में जर्मनी को युद्ध का जिम्मेदार बताया गया और इसके लिए बर्लिन पर बंदिशें लगाई गईं. लेकिन 1920 से ही माना जाने लगा कि इस युद्ध के लिए “सभी जिम्मेदार थे, या कोई नहीं”. Sourceतृतीय विश्वयुद्ध को लेकर भी कुछ ऐसा ही अनुमान लगाया जा रहा है कि अगर तीसरा विश्वयुद्ध होता है तो यह कहना गलत होगा कि इसका जिम्मेदार कोई एक देश है. क्यों कि अगर दुनिया की मौजूदा हालत को देखा जाये तो ऐसी स्थिति है कि कभी भी विश्वयुद्ध छिड़ सकता है. क्योंकि एक ओर जहाँ चीन अपने सीमा से लगे कई देशों के सीमा पर कब्ज़ा कर रहा है. वही कुछ देश अब चीन के इस हरकत का विरोध करते नज़र आ रहे हैं. अमेरिका समेत वियतनाम भ

वीडियो: जल्लाद से भी भयानक है ये माँ देखिये कैसे अपने ही नवजात बच्चे के साथ की यह क्रूरता!

ट्रेडिंग
माँ और बच्चे का रिश्ता  एक माँ और उसका उससे बच्चे से रिश्ता सिर्फ ख़ास ही नहीं बल्कि अनोखा भी होता है| कैसे बच्चे के बिना बोले माँ का सब समझ जाना, और उसका हल भी निकाल देना| कैसे बच्चे की हल्की सी भी तकलीफ का माँ का यूँ ही समझ जाना| यूँ तो हम सब इस बात से वाकिफ ही हैं कैसे एक माँ अपने बच्चे के लिए कुछ भी कर गुज़रने को तैयार होती है लेकिन ज़रा सोचिये क्या हो जब यह जीवन देने वाली माँ ही बच्चे की जान लेने पर अमादा हो जाये तो? यह माँ है की डायन  आजकल कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक क्रूर माँ का वीडियो वायरल हो रहा है| वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि कैसे वो बिना बात के ही अपने 18 महीने के मासूम बच्चे को बेरहमी से पीटे जा रही है| यह घटना दिल्ली के गीता कॉलोनी की है और आरोपी माँ का नाम शबनम बताया जा रहा है| इस वीडियो के बाद शबनम के सास-ससुर ने उसके खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करा दी है| &nb

Breaking: दिल्ली के एलजी नजीब जंग ने दिया इस्तीफा, मोदी से कहा…

समाचार
दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल नजीब जंग ने केंद्र सरकार को इस्‍तीफा सौंप दिया है. गौरतलब है कि जंग ने  9 जुलाई 2013 को दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल पद का शपथ लिया था. Sourceजंग ने कहा कि जनता के कारण ही इस दौरान दिल्‍ली के प्रशासन को सुचारू रूप से चलाया जा सका. ख़ास बात यह है कि उन्‍होंने दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी धन्‍यवाद दिया है. साथ ही जंग ने शिक्षा के क्षेत्र में जाने के संकेत दिए हैं. मालूम हो कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और नजीब जंग के बीच आये दिन खीचा-तानी की खबर सामने आती रहती थी. मामला इतना बढ़ गया था कि मामला न्यायालय तक पहुँच गया था. नजीब जंग के इस्‍तीफे पर आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्‍वास ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ‘नजीब जंग को हमारी शुभकामनाएं. नजीब जंग का बर्ताव उनका अपना नहीं था. वो किसी और के प्रभाव में बर्ताव कर रहे थे’ नजीब जंग ने
ब्रेकिंग न्यूज़ – अमेरिका ने दी पीएम मोदी के बारे में ऐसी रिपोर्ट जिसने पूरी दुनिया में मचा दी खलबली

ब्रेकिंग न्यूज़ – अमेरिका ने दी पीएम मोदी के बारे में ऐसी रिपोर्ट जिसने पूरी दुनिया में मचा दी खलबली

समाचार
नई दिल्ली। हाल ही आयी अमेरिकन खुफिया एजेंसी सीआईए की एक रिपोर्ट ने पूरी दुनिया में खलबली मचा दी है। सीआईए ने पेंटागन को रिपोर्ट दी है जिसका टाइटल है कि ‘अमेरिका के बाद भारत वो दुसरा देश हो सकता है जो किसी देश पर एटम बम का इस्तेमाल करेगा’ इन दिनों भारत-पाक के बीच सरगर्मी का माहौल है और हाल ही में भारतीय सेना ने पाकिस्तान में घुस के पाकिस्तानी आतंकियों को ठिकाने लगा दिया था। सीआईए ने इससे जुड़े सभी पहलुओं पर ध्यान देते हुए अपनी रिपोर्ट तैयार की है। इस रिपोर्ट में सीआईए ने पीएम मोदी की आक्रामकता को ध्यान में रखते हुए पेंटागन को सचेत करा है। सीआईए ने रिपोर्ट में बताया है कि पीएम मोदी भारत के अन्य नेताओं की तरह कमजोर नहीं बल्कि एक आक्रामक नेता के रूप में उभरे हैं। सीआईए ने रिपोर्ट में ये भी बताया कि अगर भारत का किसी देश के साथ युद्ध होता है तो वो भीषण युद्ध करेंगे जिसमे गोलियां कम और बम ज्यादा

यहाँ अजय देवगन और अक्षय कुमार की फिल्मों को बायकाट करने की मांग उठी

मनोरंजन
अजय देवगन से लेकर अक्षय कुमार तक बॉलीवुड के तमाम सितारों के खिलाफ गुस्से की लहर देखी जा रही हैं। क्योंकि अब  लोग लगातार अजय देवगन और अक्षय कुमार जैसे सितारों का विरोध कर रहे हैं। दरअसल उड़ी में हुए आतंकी हमले के बाद से ही भारत में पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन आवाज़ उठने लगी और सुरक्षा के नजरिये से पाकिस्तानी कलाकारों को भारत छोड़कर जाना पड़ा। तो वही पाकिस्तान में भारतीय फिल्मों को दिखाए जाने पर रोक लगा दी गयी थी। लेकिन अब पाकिस्तान में भारतीय कलाकारों और उनकी फिल्मों का विरोध होना शुरू हो गया हैं। ट्विटर लगातार अजय देवगन और अक्षय कुमार जैसे सितारों की तस्वीरों संग भारतीय फिल्मों के खिलाफ विरोध देखने को मिल रहा हैं। दरअसल सोमवार को ही पाकिस्तान के फिल्म डिस्ट्रीब्यूटर और सिनेमाघरों के मालिकों के एसोसिएशन ने भारतीय फिल्मों के पाकिस्तान में दिखाए जाने पर लगे बैन को हटा लिया हैं। लेकिन उनके इ

अभी अभी, करीना-सैफ का बेटा तैमूर नहीं बन सकेगा 5000 करोड़ की जायदाद का दावेदार

अन्य
भोपाल.करीना और सैफ अली खान का बेटा तैमूर अली खान पटौदी यहां मौजूद करीब 5000 करोड़ रुपए की जायदाद का वारिस नहीं बन पाएगा। दरअसल, भोपाल के आखिरी नवाब और सैफ के परदादा हमीदुल्ला खान की पूरी मूवेबल और इम्मूवेबल प्रॉपर्टी एनिमी प्रॉपर्टी एक्ट की जद में है। सरकार बार-बार ऑर्डिनेंस लाती रहती है ताकि पार्टिशन के बाद पाकिस्तान जा चुके राजघराने के लोगों की प्रॉपर्टी पर दावों का निपटारा होने तक उसे खरीदा-बेचा ना जा सके। मोदी सरकार की कैबिनेट ने गुरुवार को ही 5वीं बार ऑर्डिनेंस जारी करने को मंजूरी दे दी। इसके चलते फिलहाल सैफ या उनके बेटे को इस प्रॉपर्टी से कोई फायदा नहीं मिलने वाला। भोपाल में सैफ के परदादा की कुल प्रॉपर्टी करीब 5000 करोड़ रुपए की है। हरियाणा और देश के दूसरे हिस्सों में भी उनकी करोड़ों की प्रॉपर्टी है। गृह मंत्रालय करा रहा जांच – नवाब पटौदी की प्रॉपर्टी शुरू से ही विवादों मे

अगर आपकी Jio सिम से फोन नहीं लग रहा, तो ये तरीका अपनाइये

अजब-गजब
  रिलायंस जियो के आने के बाद अब हर दूसरे इंसान के हाथ में 4G इंटरनेट पहुंच गया है। रिलायंस जियो का फिलहाल फ्री हैप्पी न्यू ईयर के साथ वेलकम ऑफर चल रहा है। कुछ लोगों की जियो सिम पर इंटरनेट तो चल रहा है, लेकिन कॉलिंग नहीं हो रही। फ्री होने के कारण लोग इसकी शिकायत भी नहीं करते। लेकिन अगर आप इस समस्या से जूझ रहे हैं तो हम आपकी मदद कर सकते हैं। आपको अपने फोन की कुछ सेटिंग्स बदलनी पड़ेंगी। आइये हम आपको समझाते हैं कि किस तरीके से आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। सबसे पहले अपने फोन से Jio4GVoice ऐप अनइंस्टॉल कर लें। अब Settings => Mobile Network => APN में जाकर Jionet की सेटिंग्स को Reset कर दें। – अब अपने स्मार्टफोन को Restart कर लें। फोन ऑन होने के बाद सबसे पहले Jio4GVoice ऐप को दोबारा इंस्टॉल करें। – अब ऐप की सेटिंग में जाकर फोन डायलर को ऐड कर लें। आपकी जि

इस देश में रूस के राजदूत की हत्या, 24 घण्टे में मिटा दूँगा पूरा देश – पुतिन

समाचार
तुर्की की राजधानी अंकारा में सोमवार रात (भारतीय समयानुसार) रूस के ऐंबैसडर की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। हमलावर ने रूसी ऐंबैसडर आंद्रे कार्लोव को बिल्‍कुल नजदीक से पीछे से गोली मारी। हमलावर की पहचान स्पेशल फोर्सेस पुलिस के सदस्य मेवल्यूट मर्ट ऐल्टिंटश के रूप में हुई है जो उस वक्त ऑफ ड्यूटी था। हमले के बाद सुरक्षाबलों ने ऐल्टिंटश को भी मार गिराया। रेडियो रूस के मुताबिक राजदूत की हत्या पर राष्ट्रपति पुतिन बेहद गुस्से में हैं। उन्होंने ऐलान किया है कि वो तुर्की को 24 घंटे का समय देते हैं या तो दोषियों पर कार्रवाई करे या फिर अगला सीरिया बनने को तैयार हो जाए। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, हादसा एक आर्ट गैलरी में हुआ जहां कार्लोव भाषण दे रहे थे। तभी ऐल्टिंटश (22) वहां पहुंचा और चिल्लाना शुरू किया, ‘अलेप्पो को मत भूलो, हम अलेप्‍पो में मर रहे हैं, तुम यहां मरोगे’ और इसके बाद ‘अल्लाहू अक